गोरखपुर में दरोगा ने थाने में खुद को मारी गोली, कनपटी से आरपार हो गई गोली, मचा हडकंप


गोरखपुर:होली की खुशियों के बीच गोरखपुर के तिवारी पुर थाने में तैनात दरोगा हरेन्द्र सिंह ने खुद को गोली मारकर खुदकशी कर ली। गोली चलने की आवाज सुनकर मौके मौजूद अन्य लोग जब दरोगा के पास पहुंचे तो वहां का नजारा देख हैरान रह गए। खून से लथपथ दरोगा को बीआरडी मेडिकल कॉलेज पहुंचाया गया जहाँ डाक्टरों ने दरोगा को मृत घोषित कर दिया। खुदकशी के पीछे पारिवारिक विवाद बताया जा रहा है।


शनिवार सुबह करीब 6 बजे थाने में तैनात पुलिसकर्मी घंटाघर से निकलने वाली शोभायात्रा में ड्यूटी करने के लिए निकल रहे थे। इसी दौरान सरकारी आवास की तरफ गोली चलने की आवाज सुनाई दी। आवाज सुनते ही सिपाहियों के साथ थानेदार राजेन्द्र प्रताप सिंह सरकारी आवास की ओर भागे मौके पर पहुंचे तो देखा कि दरोगा हरेंद्र प्रताप सिंह  फर्श पर खून से लथपथ पड़े थे। कमरे में ही उनकी सरकारी पिस्टल पड़ी थी।

दरोगा की हालत देख सरकारी जीप से ही अचेतावस्था में दरोगा हरेंद्र सिंह को थानेदार राजेंद्र प्रताप सिंह बीआरडी मेडिकल कालेज ले गए जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

हरेंद्र प्रताप सिंह के दाएं कनपटी के पास लगी गोली पार हो गई है। जिसकी वजह से हरेंद्र के खुदकुशी करने की बात कही जा रही है। जिस कमरे में घटना हुई है उसे सील कर दिया गया है। फोरेंसिक टीम मामले की जांच कर रही है। थाने में तैनात पुलिसकर्मी चर्चा कर रहे थे कि पारिवारिक विवाद में दरोगा ने खुद को गोली मारी है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ