सिद्धार्थनगर:प्रेम विवाह करने वाली बेटी का सिर कूचकर पिता ने की बेरहमी से हत्या


सिद्धार्थनगर:चिल्हिया थाना क्षेत्र के कपिया खालसा गांव में रविवार शाम एक पिता ने अपनी बेटी की पत्थर से सिर कूंच कर हत्या कर दी। पिता ने पुलिस के सामने बेटी के कत्ल का जुर्म भी कबूल किया।

जानकारी के मुताबिक, कपिया खालसा गांव निवासी विश्वनाथ की बेटी सुनीता ने साल 2013 में परिवार के खिलाफ जाकर गांव के ही अब्दुल मोतीन के साथ मुम्बई गई और वही कोर्ट में जाकर शादी कर ली। अब सुनीता तीन बच्चों की मां थी।

शादी के सात साल बाद सुनीता गांव लौटी थी उसे लगा होगा की अब सबकुछ सामान्य हो गया होगा। वह पिछले एक महीने से गांव में रह रही थी। उसका पति अभी कुछ दिन पहले मुम्बई कमाने के लिए गया था। यहां पत्नी की बेरहमी से हत्या कर दी गई।

सिद्धार्थनगर:बटवारे में विवाद हुआ तो सगे भाई ने बडे की नाक काट दी

पुलिस के मुताबिक, आरोपियों ने सुनीता की सिर कूचकर हत्या की और शव को ससुराल स्थित घर के सामने वाले रास्ते पर रख भाग गए। इस घटना के बाद सुनीता के मायके और ससुराल दोनों पक्षों के लोग फरार हैं। इस हत्याकांड में और भी लोगों के शामिल होने की आशंका है।

सुनीता के पिता ने पुलिस के सामने अपना गुनाह कबूल करते हुए कहा कि बेटी को मैनें मारा है। उसने पुलिस को हत्या के पीछे का कारण बताते हुए बोला कि बेटी ने गांव के ही एक युवक से परिवार के मर्जी के खिलाफ जाकर शादी की थी इसलिए विश्वनाथ चाहता था कि बेटी अब इस गांव में आकर ना रहे। वह नहीं मानी इसलिए हत्या कर दी।

इस घटना के बाद मौके पर सात थानों की पुलिस तैनात कर दी गई थी। एसपी राम अभिलाष त्रिपाठी, शोहरतगढ़ सीओ प्रदीप कुमार यादव, शोहरतगढ़ थाना प्रभारी राजेंद्र बहादुर सिंह फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर जायजा लिया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ